Top 20 New Status Hindi Me - Indian Shayari - Love Shayari in Hindi | Sad Shayari in Hindi

Latest

Saturday, 29 July 2017

Top 20 New Status Hindi Me

Top 20 New Status Hindi Me : Hello dosto, aaj ki is blog post me hum log aapke sath share krne ja rahe hai dil ko choo jane vale most beautiful new status hindi me,status hindi me love,hindi me status,status hindi me,status for me in hindi,hindi me whatsapp status,whatsapp status hindi me,love status hindi me,whatsapp status love hindi me,whatsapp status hindi me love,best status hindi me,whatsapp love status hindi me,whatsapp status about me in hindi,love me status in hindi,nice status hindi me,about me status in hindi,status love hindi me,romantic status hindi me. hume ummids hai ki ye post aap sabhi logo ko bht pasand ayegi... aap log hme comment me likh ke zaroor batae..k ye post aap sabhi ko kaisi lagi...Thanks

New Status Hindi Me


हम ने रोती हुई आँखों को हसाया है सदा,
इस से बेहतर इबादत तो नहीं होगी हमसे।

इतनी दिलक़श आँखें होने का, ये मतलब तो नही..
कि, जिसे देखो.. उसे दिवाना कर दो।
जिन्हे सांसो की महक से ईश्क महसूस ना हो,
वो गुलाब देने भर से हाल-ए-दिल क्या समझेंगे।
मोहब्बत हमारी भी, बहुत असर रखती है,
बहुत याद आयेंगे, जरा भूल के तो देखो।
जिन्हे सांसो की महक से ईश्क महसूस ना हो,
वो गुलाब देने भर से हाल-ए-दिल क्या समझेंगे।
नफरत के बाजार में मोहब्बत बेचते है,
कीमत में सिर्फ और सिर्फ दुआ ही लेते है।
हर कदम पर जिन्दगी एक नया मोड लेती है,
कब न जाने किसके साथ एक नया रिशता जोड देती है।
अजीब सा हाल है कुछ इन दिनों तबियत का,
ख़ुशी ख़ुशी नही लगती और ग़म बुरा नही लगता।
क्या अब भी तुमको चरागों की जरुरत है,
हम आ गए है अपनी आँखों में वफ़ा की रौशनी ले कर।

दीवाना उस ने कर दिया एक बार देख कर,
हम कर सके न कुछ भी लगातार देख कर।

वो जिसकी याद मे हमने खर्च दी जिन्दगी अपनी,
वो शख्श आज मुझको गैर कह के चला गया।
जो उनकी आँखों से बयां होते हैं,
वो लफ्ज़ शायरी में कहाँ होते हैं।
खुशनसीब कुछ ऐसे हो जाये,
तुम हो हम हो और इश्क हो जाये।
उदासियों की वजह तो बहुत है ज़िन्दगी में,
पर खुश रहने का मज़ा आपके ही साथ है।
ए मेरी कलम इतना सा अहसान कर दे
कह ना पाई जो जुबान वो बयान कर दे।
अब मौत से कहो की हमसे नाराज़गी ख़त्म कर ले,
वो बहुत बदल गए है, जिसके लिए हम जिया करते थे ।
जब लगा था खँजर तो इतना दर्द ना हुआ,
जख्म का एहसास तो तब हुआ जब चलाने वाले पे नजर पड़ी।
परवाह नहीं अगर ये जमाना खफा रहे..
बस इतनी सी दुआ है, दोस्त मेहरबां रहे।
गिरते हुए आँसुओं को कौन देखता है
झूठी मुस्कान के दीवाने हैं सब यहाँ।

जो तार से निकली है वो धुन सबने सुनी है,
जो साज़ पर बीती है वो दर्द किस दिल को पता।

1 comment:

  1. A very nice article. Keep up the good work. and please visit my site www.walkbro.in

    ReplyDelete